Wednesday, April 14, 2021
Home World तलाकशुदा नहीं बन सकता ब्यूटी क्वीन, देकर छीन लिया ताज, वीडियो वायरल

तलाकशुदा नहीं बन सकता ब्यूटी क्वीन, देकर छीन लिया ताज, वीडियो वायरल


श्री में उस समय हैरान करने वाली घटना हुई, जब मिसेज श्री का खिताब देने के दौरान हंगामा मच गया। दरअसल, पुष्पिका डी सिल्वा को मिसेज श्री का खिताब मिला था, तब उनके प्रतिद्वंद्वी ने उनके सिर पर सजा क्राउन खींच लिया था। इस दौरान 31 साल के सिल्वा के सिर पर भी लग गए। प्रतिद्वंद्वी का आरोप था कि चूंकि डी सिल्वा एक तलाकशुदा हैं, इस कारण से वह मिसेज श्री नहीं बन सकती हैं। यह इस कार्यक्रम का संपूर्ण श्रीलंका में राष्ट्रीय टीवी पर प्रसारण किया गया। अब इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

31 वर्षीय ब्यूटी क्वीन पुष्पिका डी सिल्वा ने वर्ष 2020/2021 का मिसेज श्रीलंका खिताब जीता था। उनमें से एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। वायरल वीडियो के अनुसार, मिसेज श्री का साल 2019 का खिताब जीतने वालींलेटीन जूरी माइक लेकर दिखाई देती हैं। वहाँ मौजूद दर्शकों से वर्णीन कहती हैं कि यहां नियम है कि जो महिला शादीशुदा है और उसका तलाक हो चुका है, उसे यह खिताब नहीं मिल सकता है। इस कारण से मैं इस क्राउन को दूसरे नंबर पर आने वाली को पहना रहा हूं। 28 वर्षीय डिलीन ने इतना ही कहा डी। सिल्वा के सिर पर लगा क्राउन खींच लिया गया, जिसके बाद मंच पर हंगामा हो गया। क्राउन को खींचते समय डी सिल्वा के बालों में फंस गया और उन्हें सिर पर चोट भी लग गई।

मिसेज श्री का क्राउन सिल्वा के सिर से निकालने के बाद रनर-अप को पहना दिया गया। फुटेज में देखा जा सकता है कि भावुक सिल्वा तुरंत ही मंच से चली गई और उन्होंने इस पूरी घटना को अनुचित और अपमानजनक करार दिया। हालांकि, बाद में आयोजकों ने बताया कि चूंकि डी सिल्वा से उत्साहित हैं, नाकि तलाकशुदा हैं, इसलिए उन्हें उनके खिताब वापस दिए गए हैं। नेलुम पोकुना महिंदा राजपक्षे थिएटर में हुई इस अप्रत्याशित घटना के बाद से एक फेसबुक पोस्ट में डी सिल्वा ने बताया कि उन्हें सिर की चोट के लिए इलाज करवाना पड़ा। सिल्वा ने कहा, ” मैं अभी भी अन-डायवोर्ड महिला हूं। ”

उन्होंने आगे कहा, ” मैंने कानून कार्रवाई शुरू कर दी है। मैं कहती हूं कि वह महिला सही क्वीन नहीं होती है जोकि दूसरी महिला के सिर से क्राउन खींच ले। ’’ हालांकि, इस घटना के बाद आयोजकों ने डी सिल्वा से माफी मांगी और कॉम्पटीशन के नेशनल डायरेक्टर चांदीमल जयसिंगल ने इस घटना को अपमानजनक करार दिया।





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments