Monday, August 8, 2022
HomeIndiaडीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया, कश्मीर में नागरिकों को क्यों निशाना बना...

डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया, कश्मीर में नागरिकों को क्यों निशाना बना रहे आतंकी


Image Source : PTI
श्रीनगर के ईदगाह इलाके में एक स्कूल पर आतंकियों ने हमला कर प्रिंसिपल और टीचर की गोली मारकर हत्या कर दी।

श्रीनगर: श्रीनगर के ईदगाह इलाके में एक स्कूल पर आतंकियों ने हमला कर प्रिंसिपल और टीचर की गोली मारकर हत्या कर दी। दोनों को करीब से पिस्टल से गोली मारी गई। इस हमले में प्रिंसिपल सतिंदर कौर और टीचर दीपक चंद की मौके पर हीं मौत हो गई। दीपक चंद कश्मीरी पंडित थे। इन दोनों की हत्या की निंदा करते हुए जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रमुख दिलबाग सिंह ने कहा कि नागरिकों खास तौर पर अल्पसंख्यकों को निशाना बनाकर की गई हत्या का उद्देश्य कश्मीर में डर का माहौल पैदा करना और सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ना है। सिंह ने गवर्नमेंट ब्वॉयज सेकेंडरी स्कूल में घटनास्थल पर संवाददाताओं से कहा कि जो लोग मानवता, भाइचारे और स्थानीय मूल्यों को निशाना बना रहे हैं, वे जल्द ही बेनकाब होंगे। 

डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा, ‘‘पिछले कुछ दिनों से कश्मीर में नागरिकों को निशाना बनाए जाने की घटनाएं नृशंस हैं। ऐसे निर्दोष लोगों को निशाना बनाया जा रहा है जो समाज के लिए काम कर रहे हैं और जिनका किसी से भी कोई लेना-देना नहीं है। यह कश्मीर में डर का वातावरण पैदा करने और सांप्रदायिक रंग देकर यहां के सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ने की कोशिश है।’’ इन दोनों की हत्या के बाद घाटी में पिछले पांच दिनों में मारे गए आम नागरिकों की संख्या सात हो गई है, जिनमें से छह की हत्या शहर में हुई है। मृतकों में से चार घाटी के अल्पसंख्यक समुदाय से थे।

उन्होंने कहा, ‘‘हमें बार-बार हुए इन हमलों में नागरिकों के मारे जाने का दुख है। हम पिछले मामलों पर काम कर रहे हैं। श्रीनगर पुलिस को कई सुराग मिले हैं और हम जल्द ही इन आतंकी और नृशंस हमलों के जिम्मेदार लोगों को पकड़ लेंगे। मैं आश्वस्त हूं कि पुलिस ऐसे लोगों को बेनकाब करने में सफल रहेगी।’’ उन्होंने इन हमलों को कश्मीर के मुस्लिम समुदाय को बदनाम करने की कोशिश बताते हुए कहा कि आतंकवादी पाकिस्तान के इशारे पर काम कर रहे हैं ताकि घाटी में शांति बहाली में बाधा डाली जा सके। 

उन्होंने कहा, ‘‘यह कश्मीर के स्थानीय मुसलमानों को बदनाम करने की कोशिश है। यह उन लोगों को निशाना बनाने की कोशिश है जो रोजी-रोटी कमाने यहां आते हैं। यह कश्मीर में सांप्रदायिक सौहार्द और भाइचारे की सदियों पुरानी परंपरा को नुकसान पहुंचाने की साजिश है।’’ पुलिस प्रमुख ने कहा, ‘‘आतंकवादी तो आतंकवादी हैं और वे सीमापार पाकिस्तान की एजेंसियों के इशारे पर काम कर रहे हैं ताकि कश्मीर में अशांति बनी रहे। मैं आशान्वित हूं कि कश्मीर के लोग इस षडयंत्र को नाकाम करेंगे। हम साथ मिलकर काम करेंगे और उनके मकसद को नाकाम करेंगे।’’

एक पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘‘पूर्वाह्न करीब सवा 11 बजे आंतकवादियों ने श्रीनगर जिले के संगम ईदगाह इलाके में दो शिक्षकों की गोली मारकर हत्या कर दी।’’ इससे पहले आतंकवादियों ने शनिवार को श्रीनगर के चट्टाबल के रहनेवाले माजिद अहमद गोजरी की हत्या करण नगर में कर दी थी। शनिवार को ही रात में बटमालू के रहनेवाले एक अन्य नागरिक मोहम्मद शफी डार को एस डी कालोनी बटमालू में गोली मारी गई, जिसमें वह घायल हो गए और बाद में उनकी मौत हो गई। 





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments