Tuesday, January 31, 2023
HomeIndiaकोविड-19 प्रबंधन की मॉकड्रिल

कोविड-19 प्रबंधन की मॉकड्रिल

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने सफदरजंग अस्पताल जाकर कोविड-19 प्रबंधन में अस्पताल के बुनियादी ढांचे की तैयारी सुनिश्चित करने के लिए मॉकड्रिल की समीक्षा की

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया आज नई दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल गए और कोविड-19 प्रबंधन के लिए अस्पताल के बुनियादी ढांचे की तैयारी सुनिश्चित करने के लिए की जा रही मॉकड्रिल की समीक्षा की।

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002F9D5.jpg

 

केंद्रीय मंत्री ने कहा, “मैंने हाल में राज्य के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ कोविड-19 की स्थिति तथा इसकी रोकथाम और प्रबंधन की तैयारी की समीक्षा की। कोविड-19 प्रबंधन के लिए तैयारी की समीक्षा में देश में मॉकड्रिल की जा रही है। कोविड-19 प्रबंधन के लिए अस्पतालों में क्लिनिकल तैयारी महत्वपूर्ण है। आज सरकारी तथा निजी अस्पतालों में मॉकड्रिल की जा रही है। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अपने-अपने राज्यों में ड्रिल की समीक्षा कर रहे हैं।”

 

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image003A6UN.jpg

 

डॉ. मांडविया ने सफदरजंग अस्पताल तथा वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज के विभागाध्यक्षों और कर्मचारियों से अनौपचारिक बातचीत की। स्वास्थ्य मंत्री विभिन्न विभागों के अध्यक्षों, डॉक्टरों, नर्सों, सुरक्षा तथा शुचिता सेवाओं के प्रमुखों के साथ एक घंटे रहे और गुणवत्ता अस्पताल प्रबंधन, क्लिनिकल प्रैक्टिसेज, संक्रमण नियंत्रण उपाय, स्वच्छता प्रक्रिया, रोगी केंद्रित उच्च गुणवत्ता संपन्न स्वास्थ्य सेवा पर विभिन्न सुझावों को धैर्यपूर्वक सुना। उन्होंने स्वास्थ्य मंत्री से महामारी के दौरान रात-दिन सेवा उपलब्ध कराने के काम में अपने अनुभवों को साझा किया। डॉ. मांडविया ने विभागाध्यक्षों को अपनी टीम से प्रत्येक सप्ताह मिलने, सभी विभागों का दौरा करने और श्रेष्ठ परिणाम सुनिश्चित करने के लिए उनके कार्य प्रदर्शन का आकलन करने की सलाह दी। उन्होंने महामारी के दौरान डॉक्टरों के अनुकरणीय कार्य की सराहना की।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004MD8N.jpg

 

ड़ॉ. मांडविया ने कोताही को लेकर सचेत किया और सभी से कोविड उपयुक्त व्यवहार करने का आग्रह किया। उन्होंने सतर्क रहने, अपुष्ट सूचना को साझा करने से बचने तथा उच्च स्तर की तैयारी सुनिश्चित करने पर बल दिया। उन्होंने कहा, “कोविड के मामले पूरे विश्व में बढ़ रहे हैं और भारत में भी मामलों में वृद्धि हो सकती है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि उपकरण, प्रक्रियाओं तथा मानव संसाधनों के मामले में संपूर्ण कोविड ढांचा संचालन तैयारी  में रहे।”

इस अवसर पर स्वास्थ्य सेवा महानिदेशक डॉ. अतुल गोयल, सफदरजंग अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. बी. एल. शेरवा और स्वच्छता सहित विभिन्न विभागों के प्रमुख उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments