Saturday, December 3, 2022
HomeUttar Pradeshओपी राजभर के करीबी रहे महेंद्र राजभर ने बनाई नई पार्टी, सुहेलदेव...

ओपी राजभर के करीबी रहे महेंद्र राजभर ने बनाई नई पार्टी, सुहेलदेव स्वाभिमान पार्टी लगाएगी वोट में सेंध के बाद!


मऊ: ओमप्रकाश राजभर की पार्टी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी से बगावत कर महेंद्र राजभर ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट परिसर में सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ नई पार्टी का ऐलान कर दिया। हालांकि महेंद्र राजभर अपने कार्यक्रम के लिए प्रशासन की अनुमति न मिलने के कारण नाराज भी दिखे। दरअसल यह ऐलान महेंद्र राजभर को एक निजी प्लाजा में आयोजित कार्यक्रम के दौरान करना था। हालांकि प्रशासन से अनुमति न मिलने के कारण महेंद्र राजभर ने कलेक्ट्रेट परिसर में कार्यकर्ताओं को इकट्ठा कर पार्टी का ऐलान कर दिया।

महेंद्र राजभर इससे पहले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हुआ करते थे। हालांकि उन्होंने ओमप्रकाश राजभर पर परिवारवाद के साथ राजभरों की कमाई और मेहनत को बेचने का आरोप लगाते हुए सैकड़ों कार्यकर्ताओं के साथ पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद से नई पार्टी के गठन का प्रयास किया जा रहा था।

नई पार्टी का नाम सुहेलदेव स्वाभिमान पार्टी
मंगलवार को महेंद्र राजभर की अगुवाई में सैकड़ों कार्यकर्ताओं द्वारा जिले के एक निजी प्लाजा में कार्यक्रम आयोजित किया गया था। इसके लिए महेंद्र राजभर ने प्रशासन से अनुमति मांगी थी, लेकिन अनुमति नहीं मिल पाई। इसके बाद राजभर अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट परिसर पहुंच गए और वहां शक्ति प्रदर्शन करने के दौरान अपनी नई पार्टी का ऐलान कर दिया। उन्होंने अपनी नई पार्टी का नाम सुहेलदेव स्वाभिमान पार्टी बताया।

अधिकारियों पर लगाया आरोप
महेंद्र राजभर ओमप्रकाश राजभर पर काफी हमलावर दिखे। उन्होंने कहा कि ओमप्रकाश राजभर की जमीन खिसक चुकी है। वह अपने मुद्दे से भटक चुके हैं। उन्होंने सिटी मजिस्ट्रेट और सीओ सिटी पर दबाव बनाकर हमारे नए पार्टी के गठन को अनुमति नहीं देने दिया, जिसके कारण आज हमें कलेक्ट्रेट परिसर में इकट्ठा होना पड़ा है।

पूर्वांचल के राजभर वोटों पर नजर
कुल मिलाकर पूर्वांचल में राजभर वोटो के दम पर राजनीति करने वाले ओमप्रकाश के लिए आगे की राह मुश्किल नजर आ रही है। अब देखना यह दिलचस्प होगा कि उन्हीं की पार्टी से टूट कर नई पार्टी बनाने वाले महेंद्र राजभर राजभर वोटों को अपनी तरफ खींच पाने में कितना सफल हो पाते हैं।
रिपोर्ट – वेद नारायण मिश्रा



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments