Tuesday, January 31, 2023
HomeIndiaएटीएल मैराथन 2022-23: अटल नवाचार मिशन ने आवेदन आमंत्रित किए

एटीएल मैराथन 2022-23: अटल नवाचार मिशन ने आवेदन आमंत्रित किए

अटल नवाचार मिशन (एआईएम) नीति आयोग ने आज एआईएम के अटल टिंकरिंग लैब्स कार्यक्रम के तहत ‘एटीएल मैराथन 2022-23 – एक प्रमुख नवाचार चुनौती’ के लिए आवेदन आमंत्रित करने की शुरूआत की।

एटीएल मैराथन पूरे देश के उन युवा नवप्रवर्तकों के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की नवाचार चुनौती है, जो अपनी पसंद की सामुदायिक समस्याओं को हल कर सकते हैं, कामकाजी प्रोटोटाइप या न्यूनतम व्यवहार्य उत्पाद (एमवीपी) के रूप में नवाचारी समाधान विकसित कर सकते हैं।

मैराथन के पिछले संस्करण में 7000 से ज्‍यादा नवाचारों की भागीदारी रही, उनमें से शीर्ष 350 को भारत में प्रतिष्ठित कंपनियों के साथ इंटर्नशिप के अवसर, एमआईएम, नीति आयोग से पुरस्कार और प्रमाण पत्र प्राप्‍त हुए। इस वर्ष का एटीएल मैराथन इससे भी अधिक शानदान होने वाला है।

एटीएल मैराथन के इस संस्करण की थीम “भारत की जी20 प्रेसीडेंसी” है। क्‍योंकि भारत ने इस वर्ष जी20 की अध्यक्षता ग्रहण की है, इसलिए एआईएम ने ध्‍यान केन्द्रित करने से संबंधित क्षेत्रों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रासंगिक मुद्दों के बार में जी20 की कार्य समूह प्रेरक सिफारिशों के आधार पर समस्या विवरण तैयार किए हैं।

यह विचार विभिन्न क्षेत्रों में वैश्विक समस्याओं के समाधान द्वारा न केवल बेहतर भारत बल्कि दुनिया के लिए नवाचार करने हेतु छात्रों के लिए एक बड़ा अवसर जुटाने वाला है। यह भारत के लिए एक ऐतिहासिक क्षण होने वाला है और यह छात्रों के लिए स्थानीय और वैश्विक समस्याओं को हल करने का भी एक अनूठा अवसर होगा।

इस वर्ष, छात्रों के पास निर्दिष्ट विषयों के अतिरिक्‍त अन्य क्षेत्रों में भी परियोजनाएं जमा करने का अवसर रहेगा। छात्र दिए गए समस्या विवरणों के अलावा स्थानीय समुदाय की समस्याओं को भी हल करने में सक्षम होंगे।

एटीएल मैराथन 2022-23 हिंदी में भी उपलब्ध है। छात्र अंग्रेजी और हिंदी में एटीएल मैराथन के बारे में सभी विवरण प्राप्त कर सकते हैं और दोनों भाषाओं में अपनी प्रविष्टियां जमा कर सकते हैं।

शीर्ष टीमों को छात्र इनोवेटर प्रोग्राम के माध्यम से भारत के प्रमुख कॉर्पोरेट्स और इन्क्यूबेशन सेंटर्स के साथ इंटर्नशिप करने और एआईएम, नीति आयोग से प्रमाण-पत्र प्राप्‍त करने तथा कई तरह के अन्‍य रोमांचक अवसर भी उपलब्‍ध होंगे।

एआईएम के मिशन निदेशक डॉ. चिंतन वैष्णव ने चुनौती विवरण देते हुए कहा कि यह हम सभी के लिए एक रोमांचक क्षण है। हमने पिछले मैराथन में कुछ शानदार नवाचार देखे हैं और हमें विश्‍वास है कि इस साल भी हमें काफी रोमांचक नवाचार देखने को मिलेंगे। छात्रों के लिए, एटीएल मैराथन एक महान टीम बनाने से लेकर राष्ट्रीय महत्व की समस्या को हल करने वाली एक शानदार यात्रा है।

इस वर्ष की थीम के महत्व पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि इस वर्ष मैराथन बहुत महत्वपूर्ण होने जा रहा है क्योंकि छात्र जी20 के वैश्विक प्रासंगिक मुद्दों से प्राप्त समस्या विवरणों पर काम करेंगे। उन्होंने छात्रों को आगे आने और इस सुनहरे अवसर का हिस्सा बनने के लिए प्रोत्साहित किया।

एटीएल मैराथन 2023 में एक छात्र की यात्रा

https://lh6.googleusercontent.com/_vhJAdorFGC5As86P9HgFd0iMJtpFD9nsS--RprL_tZHJJmH5b-07TralzKV6RUfXrk49ugBwOZ8RdWWS5hM8-nyvoz3XL0a-VytXoWrgVTQTLNtzwf_o3bKaTbXdCYnnOktagn51ODrxy0ctN4EZYRV7xxJK5H6dvE0NZsiX6wR9fYSG5VO3NA

समस्या विवरण क्षेत्र

  1. शिक्षा
  2. स्वास्थ्य
  3. कृषि
  4. पर्यावरण और जलवायु स्थिरता
  5. विकास
  6. डिजिटल अर्थव्यवस्था
  7. पर्यटन
  8. अन्य (अपनी स्वयं की समस्या को पहचानें और उसका समाधान करें)

अधिक जानकारी के लिए छात्र यहां क्लिक कर सकते हैं https://innovateindia.mygov.in/atl-marathon-2022/

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments