Thursday, August 5, 2021
Home Pradesh Bihar एएनएम पुष्पा, अफवाहों को दूर कर शत-प्रतिशत कोविड टीकाकरण के प्रयास में...

एएनएम पुष्पा, अफवाहों को दूर कर शत-प्रतिशत कोविड टीकाकरण के प्रयास में जुटी

संवाददाता – धर्मेंद्र रस्तोगी

तमाम चुनौतियों के बावजूद गांव में नियमित जांच व टीकाकरण सत्र का कर रही संचालन:
स्वास्थ्य अधिकारी व ग्रामीण भी हैं कायल, हर तरफ हो रही तारिफ:

किशनगंज,
वैश्विक महामारी के इस दौर में सरकार लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने का प्रयास कर रही है। वर्तमान समय में कोरोना से बचाव को लेकर टीकाकरण चल रहा है। चुनौतियों से भरे इस दौर में कुछ कर्मी जनसेवा व समर्पण की मिसाल बन कर सामने आये हैं। किशनगंज प्रखंड के उप स्वास्थ्य केंद्र टेउसा में कार्यरत एएनएम पुष्पा कुमारी का नाम भी इसमें शामिल है। जिन्होंने संक्रमण से बचाव संबंधी उपायों के प्रति लोगों को जागरूक करने, पीड़ित लोगों को जरूरी स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के साथ-साथ उन्हें टीकाकरण के लिये प्रेरित करते हुए पूरे समुदाय को कोरोना से सुरक्षित करने की अपनी मुहिम में अब तक बेहद सफल साबित हुई हैं।

ग्रामीणों को टीकाकरण के लिये राजी करना चुनौतियों से भरा था:
किशनगंज मुख्यालय से लगभग 10 किलोमीटर दूर टेउसा पंचायत पूर्व से ही कई चुनौतियों से घिरा रहा है। गांव की आधी से अधिक आबादी के लिये मजदूरी ही आय का जरिया है। जो उन्हें स्वास्थ्य संबंधी मामलों को लेकर गंभीर होने से रोकता है। तमाम विरोधाभास के बावजूद पुष्पा गांव में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को फैलने से रोकने में बहुत हद तक कामयाब रहीं। वहीं, लोगों को टीकाकरण के प्रति जागरूक करते हुए खास कर गांव की महिलाओं का टीकाकरण सुनिश्चित कराने के प्रयासों में भी वे खासा सफल रही हैं। उनके प्रयासों के कारण अब गांव की महिलाएं ही घर के पुरुष सदस्यों पर टीकाकरण का दबाव बना रही है|

ग्रामीणों को टीकाकरण के लिये विशेष रणनीति के तहत किया गया जागरूक :
पुष्पा बताती हैं कि संक्रमण की पहली लहर में हमारे हाथ कुछ भी नहीं था लेकिन दूसरी लहर के आने तक कोरोना टीका के रूप में हमारे पास एक मजबूत हथियार उपलब्ध हो चुका था। बावजूद इसके टीकाकरण के लिये लोगों को जागरूक करने के लिये संचालित अभियान के दौरान उन्हें महसूस हुआ कि गांव के कुछ लोग जहां कोरोना को कोई रोग मानने को तैयार नहीं थे। वहीं कुछ लोग इस भ्रम के शिकार थे कि कहीं कोरोना का टीका लेने के बाद उन्हें कुछ हो न जाये। गांव का एक तबका ऐसा भी था, जो शिक्षित होने के बावजूद विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर टीकाकरण को लेकर फैलायी जा रही भ्रामक जानकारियों से प्रभावित था । पुष्पा ने इन चुनौतियों से निपटने के लिये अपनी अलग रणनीति बनायी। क्षेत्र में लगातार जागरूकता संबंधी बैठक का आयोजन ही नहीं किया बल्कि आशा एवं आंगनबाडी सेविका के साथ मिलकर गृह भ्रमण के दौरान भी उन्होंने लोगों को जागरूक करने का प्रयास नहीं छोड़ा |साथ ही गांव में आयोजित चौपालों में प्रखंड स्तरीय स्वास्थ्य अधिकारियों की मौजूदगी सुनिश्चित कराते हुए उन्होंने लोगों के मन में टीकाकरण को लेकर व्याप्त संदेह को दूर करने का प्रयास किया। कुछ ही दिनों में इसका सकारात्मक परिणाम दिखने लगा। पहले जो लोग टीकाकरण के विरोध में अपनी आवाज बुलंद कर रहे थे। जागरूकता अभियान से जुड़ कर वे भी अब लोगों को टीकाकरण के लिये प्रेरित करने की मुहिम में जुट गये।

स्वास्थ्य अधिकारी व ग्रामीण भी पुष्पा के प्रयास के हैं कायल :
प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ कश्यप ने बताया की ए एन एम् पुष्पा द्वारा ग्रामीण आबादी के बीच टीकाकरण को बढ़ावा देने के लिए किया गया कार्य काफी सराहनीय है| उन्होंने टेउसा पंचायत के लगभग 2800 लोगों को टीका लगाने कार्य किया तथा प्रतिदिन कोविड जांच में हो या ट्रेसिंग कार्य में काफी सहयोग दिया | वह गांव पहुंच कर नियमित रूप से इन इलाकों में कोरोना जांच व नियमित टीकाकरण सत्र का संचालन कर रही हैं। उनके प्रयासों के कारण पंचायत संक्रमण की दूसरी लहर से ज्यादा प्रभावी नहीं हो सका। बाहर से आये कुछ प्रवासी इस दौरान संक्रमित मिले। जिन्हें सही समय पर जरूरी स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध करायी गयी।इससे होम आइसोलेशन में रहते हुए वे जल्द स्वस्थ हो गये। वहीं स्वास्थ्य प्रबन्धक अजय कुमार साह एवं ग्रामीण सज्जाद आलम, जहाँगीर ,धरमेंदर भी पुष्पा के प्रयासों को सराहते हैं। वहीं, पुष्पा बताती हैं कि संक्रमण के शुरुआती दौर से ही वे जिम्मेदारी पूर्वक अपने कर्तव्यों का निवर्हन कर रही हैं । गांव के शतप्रतिशत लोगों का टीकाकरण उनका लक्ष्य है। उन्होंने इसे जल्द हासिल करने का भरोसा दिलाया।

टीकाकरण को लेकर अफवाहों एवम् भ्रांतियों को भी दूर कर रही हैं एएनएम् पुष्पा
ए एन एम् पुष्पा ने बताया कि वो निरंतर कोरोना काल में ड्यूटी कर रही हैं। सर्वे का काम हो या कांटेक्ट ट्रेसिंग, सभी काम अपनों की सुरक्षा के लिए किया है। आज इस वायरस से लड़ने के लिए वैक्सीन के रूप में कारगर हथियार है। इसलिये वैक्सीन मेरे क्षेत्र के सभी व्यक्तियों तक पहुंचाना मेरी जिम्मेदारी है।वह आम लोगों से अपील करते हुए कहती हैं मैंने खुद टीका की दोनों डोज ली है| टीका पूरी तरह सुरक्षित है।इसलिए, आप भी अपनी बारी आने पर वैक्सीन जरूर लगवाएं। टीका लेने पर किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है| लोग किसी अफवाहों एवं भ्रांतियों पर ध्यान देने की बजाए अपना एवं अपने परिवार के योग्य सदस्यों का टीकाकरण अवश्य कराएं | कोविड-19 का टीका पूर्णतः सुरक्षित है एवं फिलवक्त कोरोना महामारी से बचाव के लिए मात्र यही एक उपाय है | इसलिए सभी लोगों को कोविड-19 टीका जरूर लगवाना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

1993 से भगवान राम को लेकर करोड़ों रुपये चंदा इकट्ठा किया, अब फिर पहुंच रहे घर-घर: सतीश चन्द्र मिश्रा

बरेली. यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Elections 2022) में को लेकर बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने तैयारी शुरू कर दी...

PM मोदी और योगी से मीटिंग, क्या UP चुनाव में फायदा लेने की कोशिश कर रहे जीतन राम मांझी !

पटना. लोजपा की आपसी फूट के बाद क्या बिहार में सत्तारूढ़ जीतन राम मांझी खुद को दलितों का सबसे बड़ा नेता दिखाने की कोशिश...

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा- ‘महिलाएं आनंद की वस्तु हैं’ पुरुष वर्चस्व की इस मानसिकता से सख्ती से निपटना जरूरी, पढ़ें मामला

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक महत्वपूर्ण आदेश में कहा है कि शादी का झूठा वादा कर यौन संबंध बनाना कानून में दुराचार का अपराध...

2020 से बेहतर हुई यूपी के खजाने की स्थिति, जुलाई में 12655 करोड़ आए : सुरेश खन्ना

प्रदेश में कोरोना संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण का सकारात्मक असर राज्य की आर्थिक गतिविधियों में नजर आने लगा है। चालू वित्तीय वर्ष के...

Recent Comments