Tuesday, January 31, 2023
HomeUttar Pradeshउपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने प्रतिनिधिमंडल के साथ फ्रांस में किया बैठक

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने प्रतिनिधिमंडल के साथ फ्रांस में किया बैठक

उत्तर प्रदेश में फरवरी में  आयोजित होने वाली ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में अधिक से अधिक निवेश करने के बारे में चर्चा की गयी

लखनऊः

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री  केशव प्रसाद मौर्य के सहयोगी कैबिनेट मंत्री श्री योगेंद्र उपाध्याय व प्रतिनिधिमंडल के साथ आज फ्रांस के पेरिस में विभिन्न बैठकों का आयोजन किया गया, जिसमें उत्तर प्रदेश में फरवरी में प्रस्तावित ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में अधिक से अधिक निवेश करने के बारे में चर्चा की गई। पेरिस में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने प्ददवजमततं ।ळ के सीईओ श्री पासकल फोहन जी से शिष्टाचार भेंट कर उत्तर प्रदेश में किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य के साथ काम करने वाले किसान कनेक्ट प्लेटफॉर्म इनोटेरा प्लेटफॉर्म की स्थापना के लिए डवन्े को साइन कर सहमति व्यक्त की।
पेरिस में मा0 कैबिनेट मंत्री   योगेंद्र उपाध्याय   तथा वरिष्ठ अधिकारियों के प्रतिनिधिमंडल के साथ ैंतिंद ळतवनच के वाइस प्रेसिडेंट श्री मार्टिन क्लोट्ज़ जी से स्नेहिल भेंटकर उत्तर प्रदेश में निवेश करने के लिए ग्लोबल इन्वेस्टर सम्मिट में आमंत्रित किया। पेरिस, फ्रांस में उत्तर प्रदेश सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने उत्तर प्रदेश में विमान रख रखाव, मरम्मत और वअमतींनस ेचंबम के क्षेत्र में निवेश हेतु अंतर्राष्ट्रीय सहयोग के वाइस प्रेसिडेंट श्री मिशेल पास्कोफ जी से वार्ता कर एक दूसरे को सहयोग करने की सहमति व्यक्त की उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व उच्च शिक्षा तथा आईटी मंत्री योगेंद्र उपाध्याय ने उत्तर प्रदेश में इन्वेस्ट करने के लिए यहां की विशेषताओं और विशिष्टियों के बारे में विस्तार से प्रकाश डाला। उपमुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि भारत और फ्रांस के मध्य हर  दृष्टिकोण से संबंध बहुत अच्छे है। उन्होंने कंपनियों को उत्तर प्रदेश में मौजूद इन्वेस्टर फ्रेंडली वातावरण के बारे में बताया और विश्वास दिलाया की उत्तर प्रदेश सरकार इन्वेस्टर्स के साथ पूर्ण रूप से सहयोगी के रूप में खड़ी है। उन्होंने फार्म ऑटोमोबाइल रक्षा क्षेत्र, आईटी, इलेक्ट्रॉनिक्स, केमिकल, आर्गेनिक, टैक्सटाइल, फूडप्रोसेसिंग इत्यादि के क्षेत्र में कंपनियों के साथ एक एक कर लंबी वार्ता की और उत्तर प्रदेश में इन्वेस्ट करने का आमंत्रण दिया। उत्तर प्रदेश आवास एवं शहरी नियोजन विभाग के प्रमुख सचिव श्री नितिन रमेश गोकर्ण, प्रमुख सचिव परिवहन श्री एल वेंकटेश्वर लू सहित अन्य प्रतिनिधियों ने भी वार्ता में हिस्सा लिया और अपने महत्वपूर्ण विचार व्यक्त किए।
उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि उत्तर प्रदेश भारत का विकास इंजन है, और देश की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है जो तेजी से बढ़ रही है। गंगा के उपजाऊ मैदानों के किनारे स्थित राज्य को असीमित अवसरों का आशीर्वाद प्राप्त है। सरकार की निवेशक हितैषी नीतिगत दिशा और सुशासन पहल, राज्य की अंतर्निहित शक्तियों के पूरक हैं, निश्चित रूप से राज्य एक पसंदीदा निवेश गंतव्य स्थल है। कहा कि इस निवेशक शिखर सम्मेलन के माध्यम से, हम इस प्रयास में हमारे साथ सहयोग करने के लिए दुनिया भर के सर्वश्रेष्ठ दिमाग और विशेषज्ञता के लिए एक मंच प्रदान करना चाहते हैं। उन्होंने हितधारकों को उत्तर प्रदेश में निवेश की सुविधा और जमीनी स्तर पर पूर्ण समर्थन का विश्वास दिलाया और कहा कि उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट 2022 में आपका स्वागत है।
कहा कि 10-12 फरवरी 2023 को लखनऊ में निर्धारित, उत्तर प्रदेश सरकार का प्रमुख निवेश शिखर सम्मेलन है। 3-दिवसीय इन्वेस्टर्स समिट सामूहिक रूप से व्यापार के अवसरों का पता लगाने और साझेदारी बनाने के लिए दुनिया भर के नीति निर्माताओं, कॉर्पाेरेट नेताओं, व्यापार प्रतिनिधिमंडलों, शिक्षाविदों, थिंक-टैंकों और राजनीतिक और सरकारी नेतृत्व को एक साथ ला रहा है। हमारे देश को 5 ट्रिलियन यू एस डालर की अर्थव्यवस्था बनाने के भारत के मा० प्रधानमंत्री के दृष्टिकोण से जुड़ी एक पहल है, जिसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य को 01 ट्रिलियन यू एस डालर की अर्थव्यवस्था बनाने का एक आकांक्षा लक्ष्य निर्धारित किया है। उच्च शिक्षा एवं आईटी मिनिस्टर श्री योगेंद्र उपाध्याय ने उत्तर प्रदेश की जलवायु, शैक्षिक और औद्योगिक वातावरण, रोड कनेक्टिविटी, एयर कनेक्टिविटी, एक्सप्रेसवेज आदि की जानकारी देते हुए यह भी कहा कि यहा पर उपभोक्ताओं की कोई कमी नहीं है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments