Saturday, October 24, 2020
Home Pradesh Uttar Pradesh उन्नाव: शादी के 17 दिन बाद पैदा हुआ बच्चा तो पिता-भाई पर...

उन्नाव: शादी के 17 दिन बाद पैदा हुआ बच्चा तो पिता-भाई पर लगाया गया था रेप का आरोप, डीएनए टेस्ट से खुला यह राज | उन्नाव – समाचार हिंदी में


उन्नाव: शादी के 17 दिन बाद पैदा हुआ बच्चा तो पिता-भाई पर लगाया गया था रेप का आरोप, डीएनए टेस्ट से खुला यह राज

(सांकेतिक चित्र)

पूरा मामला 29 दिसंबर 2019 का है जब लखनऊ के बंथरा निवासी एक महिला ने तत्कालीन एसपी विक्रांतवीर से मिलकर पिता और भाई पर 3 साल से रेप (बलात्कार) करने का आरोप लगाया था।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:
    16 सितंबर, 2020, 10:22 AM IST

उन्नाव। पिछले साल दिसंबर में उन्नाव में दर्ज गैंगरेप (गैंगरेप) के मामले में चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पुलिस (पुलिस) ने कहा है कि पीड़ित महिला ने अपने पिता और भाई पर झूठे आरोप लगाए थे। जांच में खुलासा हुआ है कि शादी के 17 दिन बाद मां बनी महिला ने अपने गुनाहों को छिपाने के लिए पिता और भाई पर रेप और देह व्यापार में धकेलने का झूठा आरोप लगाया था। इतना ही नहीं, डीएनए टेस्ट में यह बात भी पता चली है कि बच्चा उसके प्रेमी का है। महिला ने यह बात कबूली है कि प्रेमी दिलीप के कहने पर ही आरोपी ने अपनों को झुठे मुक़दमे में फंसाया था।

दरअसल, पूरा मामला 29 दिसंबर 2019 का है जब लखनऊ के बंथरा निवासी एक महिला ने तत्कालीन एसपी विक्रांतवीर के सामने पिता और सगे चचेरे भाई पर तीन साल से रेप करने का आरोप लगाया गया था। देह व्यापर करवाने का भी आरोप लगाया गया था। इसके बाद 7 महीने के गर्भधारण की जानकारी पर आनन-फानन में 19 अप्रैल 2019 को उसकी शादी उन्नाव के सदर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में करा दी गई थी। शादी के 17 दिन बाद 6 मई को प्रसव पीड़ा शुरू हुई तो महिला को ससुरालियों को सच करना पड़ा। इसके बाद आरोप लगाने वाली महिला को एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया, जहां उसने बेटे को जन्म दिया।

पिता सहित 10 लोगों पर दर्ज हुआ था केस

पीड़िआता की शिकायत पर एसपी ने पिता सहित 10 लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवाया था। मंगलवार को मामले का खुलासा करते हुए महिला थाने के एसओ इन्द्रपाल सिंह सेंगर ने बताया कि शादी से दो साल पहले से ही महिला के लखनऊ के बंथरा निवासी दिलीप नाम के युवक से अवैध संबंध थे। इस बीच जब वह प्रेग्नेंट हो गई और जानकारी परिजनों को लगी तो उसकी शादी कर दी गई। बेटे को जन्म देने के बाद अपने गुनाह को छिपाने के लिए महिला ने प्रेमी के कहने पर पिता सहित अन्य लोगों को झूठे मुक़दमे में फांसाया। डीएनए जांच में भी यह बात पता चली है कि दिलीप ही कैंसरशे का पिता है। आरोपी महिला व उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

मोदी कैबिनेट से कर्ज लेने वालों को 2 करोड़ रुपये तक के कर्ज पर ब्याज में छूट दी गई है

मोदी क्रेन ने करोड़ों लोगों को दिवाली का तोहफा दिया है। केंद्र सरकार ने लोन मटोरोरियम की अवधि में ब्याज पर ब्याज...

बिहार विधानसभा चुनाव २०२०: क्यों यह बिहार चुनाव में नीतीश कुमार बनाम हर कोई – बिहार चुनाव में इस बार नीतीश कुमार बनाम आल...

आधिकारिक तौर पर उनके लिए मुख्य चुनौती पूर्व उप मुख्यमंत्री और राजद नेता तेजस्वी यादव हैं, जो कांग्रेस और वाम दल समर्थित महागठबंधन...

Recent Comments