Wednesday, December 7, 2022
HomeIndiaआध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर को मिला 'गांधी पीस पिलग्रिम' अवॉर्ड, अमेरिका के...

आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर को मिला 'गांधी पीस पिलग्रिम' अवॉर्ड, अमेरिका के अटलांटा में ​हुए सम्मानित

Image Source : INDIA TV
आध्यात्मिक संत श्रीश्री रविशंकर को मिला ‘गांधी पीस पिलग्रिम’ अवॉर्ड

भारत के आध्यात्मिक संत श्रीश्री रविशंकर को अमेरिका के अटलांटा में ‘गांधी पीस पिलग्रिम’ अवॉर्ड से अमेरिकी गांधी फाउंडेशन द्वारा सम्मानित किया गया। यह अवॉर्ड महात्मा गांधी और डॉ. मार्टिन लूथर किंग जूनियर द्वारा समर्थित शांति और अहिंसा के संदेशों को फैलाने के उनके सार्थक प्रयासों के लिए प्रदान किया गया। गुरुदेव श्रीश्री रविशंकर का स्वागत डॉ. मार्टिन लूथर किंग जूनियर के भतीजे और अटलांटा में भारत की महावाणिज्य दूत डॉ. स्वाति कुलकर्णी ने किया। उनकी मौजूदगी में ही इस पुरस्कार से श्रीश्री रविशंकर को सम्मानित किया गया।

गुरुदेव संयुक्त राज्य अमेरिका में अपने वैश्विक ‘आई स्टैंड फॉर पीस’ अभियान को आगे बढ़ा रहे हैं, जो पहले से ही यूरोप, मध्य अमेरिका और अन्य देशों में भी फैला हुआ है। ‘आई स्टैंड फॉर पीस’ कैंपेन के तहत श्रीश्री रविशंकर न्यूजर्सी, नॉरफ़ॉक/वर्जीनिया बीच और मेम्फिस की यात्रा भी करेंगे और पब्लिक कार्यक्रमों में हजारों की संख्या में यहां मौजूद स्थानीय समुदाय को संबोधित करेंगे। मेम्फिस में गुरुदेव श्रीश्री राष्ट्रीय नागरिक अधिकार संग्रहालय का भी दौरा करेंगे, जो अमेरिका में अहिंसा और सामाजिक परिवर्तन के इतिहास में एक अहम मील का पत्थर है।

गुरुदेव के वैश्विक टूर ‘आई स्टैंड फॉर पीस’ का अगले साल वॉशिंगटन के नेशनल मॉल में में भव्य समारोह होगा। बता दें कि श्रीश्री हर साल करीब 40 देशों की यात्रा करते हैं। देश-विदेश का दौरा करने वाले रविशंकर को 7 भाषाओं का ज्ञान हैं। हर साल 7 जुलाई को अमेरिकी और कैनेडियन शहरों की लीग में डेट्रॉइट के मेयर श्री श्री रविशंकर दिवस मनाते हैं। हर वर्ष इन जगहों पर ये दिन श्री श्री रविशंकर के दिवस के रूप में मनाया जाता है। बता दें कि आर्ट ऑफ लिविंग की सबसे लोकप्रिय विद्या सुदर्शन क्रिया है। रविशंकर ने आर्ट ऑफ लिविंग के माध्यम से कई लोगों की मानसिक अशांति को दूर किया है।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन




Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments