Friday, December 9, 2022
HomeIndiaआतंकियों द्वारा नागरिकों की हत्या के बाद अमित शाह ने कश्मीर की...

आतंकियों द्वारा नागरिकों की हत्या के बाद अमित शाह ने कश्मीर की स्थिति की समीक्षा की

Image Source : PTI
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा की स्थिति की समीक्षा की।

नई दिल्ली: पिछले 5 दिनों में जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा 7 नागरिकों की हत्या के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने गुरुवार को केंद्र शासित प्रदेश में सुरक्षा की स्थिति की समीक्षा की। शीर्ष अधिकारियों ने करीब घंटे भर तक चली बैठक में गृह मंत्री को केंद्र शासित प्रदेश और सीमावर्ती इलाकों की संपूर्ण सुरक्षा स्थिति से अवगत कराया। एक अधिकारी ने बताया कि उन्हें बताया गया कि आतंकवादियों ने नागरिकों को आसान निशाना बनाने की नीति अपनाई है और उन्हें सुरक्षा के प्रबंधन कड़े करने के लिए उठाए गए कदमों से भी अवगत कराया गया।

पिछले 5 दिनों में मारे गए हैं 7 आम नागरिक

समझा जाता है कि शाह ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि सुनिश्चित किया जाए कि हत्या में शामिल आतंकवादी पकड़े जाएं और इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाई जाए। बाद में इंटेलिजेंस ब्यूरो के निदेशक अरविंद कुमार ने अलग से बैठक की जिसमें जम्मू-कश्मीर के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया। श्रीनगर में गुरुवार को एक प्रधानाध्यापिका और एक शिक्षक को नजदीक से गोली मारी दी गई जिससे पिछले 5 दिनों में आतंकवादियों द्वारा घाटी में मारे गए नागरिकों की संख्या 7 हो गई है। 7 नागरिकों में से 4 अल्पसंख्यक समुदाय से हैं और 6 की हत्या श्रीनगर में की गई है।

सरकारी स्कूल में प्रिंसिपल और टीचर की हत्या
श्रीनगर के ईदगाह में सरकारी बालक उच्चतर माध्यमिक स्कूल में प्रिंसिपल सुपिंदर कौर और दीपक चंद की गुरुवर पूर्वाह्न सवा 11 बजे स्कूल परिसर के अंदर गोली मारकर हत्या कर दी गई। उस वक्त स्कूल में कोई छात्र नहीं था। प्रमुख कश्मीरी पंडित व्यवसायी मक्खन लाल बिंद्रू की मंगलवार को उनके दवा दुकान के अंदर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक आतंकवादियों ने 2021 में अभी तक 28 नागरिकों की हत्या की है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार जम्मू-कश्मीर में इस वर्ष अभी तक 97 आतंकवादी हमले हुए हैं, इनमें 71 सुरक्षा बलों पर हुए और 26 नागरिकों पर।




Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments