Monday, June 27, 2022
HomeBiharआईसीडीएस के तत्वाधान में पोषण पखवाड़ा समापन समारोह सह पोषण पुरस्कार वितरण...

आईसीडीएस के तत्वाधान में पोषण पखवाड़ा समापन समारोह सह पोषण पुरस्कार वितरण समारोह का हुआ आयोजन

ध्रुव कुमार सिंहमुजफ्फरपुर, बिहार,  

 

मुजफ्फरपुर जिला परिषद के सभागार में जिलाधिकारी प्रणव कुमार की अध्यक्षता में आईसीडीएस के तत्वाधान में पोषण पखवाड़ा समापन समारोह सह पोषण पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का आयोजन चांदनी सिंह जिला प्रोग्राम पदाधिकारी, आईसीडीएस द्वारा कराया गया। कार्यक्रम में सहायक समाहर्ता श्रेष्ठ अनुपम,सिविल सर्जन,जिला पंचायती राज पदाधिकारी सुषमा कुमारी, जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी कमल सिंह,सीएमओ, एसएमओ, WHO से आनंद गौतम, जिला परियोजना प्रबंधक,जीविका से अनीषा कुमारी,जिला समन्वयक राष्ट्रीय पोषण मिशन सुषमा सुमन,जिला परियोजना सहायक मनीष कुमार, राहुल कुमार जिला कार्यक्रम समन्वयक,रजनीश कुमार,जिला परियोजना सहायक प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना तथा सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारी उपस्थित रहीं। पोषण पखवाड़ा अंतर्गत वृद्धि निगरानी के  माध्यम से स्वस्थ बच्चे की पहचान ,पारंपरिक भोजन,जल संरक्षण में महिलाओं की भूमिका,एनीमिया की जांच,गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों के आहार में विविधता विषय पर शिविर का आयोजन किया गया था। जिसका निरीक्षण जिलाधिकारी के साथ उपस्थित सभी पदाधिकारियों द्वारा किया गया।स्वस्थ बच्चे की पहचान एवं पारंपरिक भोजन स्पर्धा में प्रथम , द्वितीय एवं तृतीय स्थान पाने वाले को प्रशस्ति पत्र जिलाधिकारी के माध्यम से दिया गया। पोषण पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में जिला प्रोग्राम पदाधिकारी द्वारा भारत सरकार  के द्वारा राष्ट्रीय पोषण मिशन योजना के संबंध में बताया गया कि इस योजना के माध्यम से सरकार के द्वारा पोषण से संबंधित  संचालित विभिन्न गतिविधियों/कार्यक्रमों का अनुश्रवण एवं समीक्षा किया का रहा है। विभिन्न विभागों के  समन्वय से निर्धारित समय सीमा के अंदर बच्चों में अल्पवजन, बौनापन,दुबलापन एवं एनीमिया के दर में कमी लाया जाना है। योजना को सफलतापूर्वक लागू करने हेतु विभिन्न मंत्रालयों/विभागों यथा महिला एवं बाल विकास,लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग,खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता,संरक्षण, पंचायती  इत्यादि विभाग से समन्वय स्थापित करते हुए बच्चों के कुपोषण दर  प्रतिवर्ष 2 प्रतिशत  एवं महिलाओं एवं किशोरियों में  एनीमिया प्रतिवर्ष 3 प्रतिशत की  कमी लाने में संयुक्त रूप से प्रयास करना है। पोषण पुरस्कार के लिए पोषण अभियान अंतर्गत एवं पोषण पखवाड़ा अंतर्गत प्रत्येक परियोजना से एक उत्कृष्ट समूह आंगनवाड़ी सेविका,सहायिका,आशा, एएनएम एवं महिला पर्यवेक्षिका को 50,000 हजार रुपए प्रति समूह/परियोजना की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है जिसके लिए परियोजना स्तर से समर्पित प्रस्ताव को समीक्षा गठित समीक्षा समिति एवं चयन समिति द्वारा की गई है।जिलाधिकारी द्वारा कटरा परियोजना की 6 माह की बच्ची का अन्नप्राशन किया गया। हरेक परियोजना से एक स्वस्थ बच्चे का चयन करके भेजा गया था जिसे जिलाधिकारी द्वारा प्रशस्ति पत्र एवं पोषण पुरस्कार दिया गया। पारंपरिक भोजन में मरवा,मक्का, एवं सहजन से बने विभिन्न प्रकार के भोजन तथा सुषमा सुमन, जिला समन्वयक द्वारा बिहार के प्रसिद्ध मिष्ठान मक्के से तैयार किया हुआ ठेकुआ को जिलाधिकारी के साथ साथ सभी  पदाधिकारियों द्वारा चखा गया एवं सराहना भी की गई। जिलाधिकारी द्वारा सभी को पोषण शपथ कराया गया एवं सभी को अपने जीवन में पारंपरिक भोजन अपनाने तथा आम जन को भी इसके लिए जागरूक करने के लिए बताया गया। पोषण अभियान अंतर्गत उत्कृष्ट कार्य करने हेतु जिला प्रोग्राम पदाधिकारी चांदनी सिंह,सुषमा सुमन राष्ट्रीय पोषण मिशन,मनीष कुमार डीपीए, राहुल कुमार डीपीसी, रजनीश कुमार डीपीए,प्रकाश रंजन डीईओ को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। वर्ल्ड विजन एवं प्लान इंडिया के प्रतिनिधि को उत्कृष्ट कार्य हेतु प्रशस्ति-पत्र देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का मंच संचालन बाल विकास परियोजना पदाधिकारी मंजू सिंह  द्वारा तथा जिला समन्वयक राष्ट्रीय पोषण मिशन सुषमा सुमन द्वारा धन्यवाद ज्ञापन कर कार्यक्रम का समापन किया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments