Thursday, November 26, 2020
Home Pradesh Uttar Pradesh अखिलेश यादव का सवाल- सरकार अपने लोगों की गाड़ी पलटाती है या...

अखिलेश यादव का सवाल- सरकार अपने लोगों की गाड़ी पलटाती है या नहीं?


अखिलेश यादव बोले- सरकार अपने लोगों की गाड़ी पलटाती है या नहीं? (फाइल फोटो)

अखिलेश यादव बोले- सरकार अपने लोगों की गाड़ी पलटाती है या नहीं? (फाइल फोटो)

डीआईजीजी (डीआईजी) ने दावा किया कि सभी नामजद आरोपियों को पुलिस जल्द ही गिरफ्तार कर लेगी। मामले में लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्रकरण कार्रवाई होगी।

  • News18Hindi
  • आखरी अपडेट:
    16 अक्टूबर, 2020, 2:15 PM IST

बलिया। उत्तर प्रदेंश के बलिया में कोटे के आवंटन को लेकर बुलाई गई खुली बैठक में एक शख्स की हत्या के मामले को लेकर राजनीतिक नियमन आ रहे हैं। यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव (अखिलेश यादव) ने शुक्रवार को यूपी सरकार पर निशाना साधा है। अखिलेश यादव ने इस बारे में ट्वीट किया और कहा कि बलिया में सत्ताधारी भाजपा के एक नेता के, एसडीएम और सीओ के सामने खुलेआम, एक युवक की हत्या कर फरार हो जाने से उप्र में कानून व्यवस्था का सच सामने आ गया है। अब देखें क्या एनकाउंटरवाली सरकार अपने लोगों की गाड़ी भी पलटाती है या नहीं। # नहींचाहिएभाजपा

उधर, बसपा प्रमुख मायावती ने अपने ट्वीट में लिखा है कि यूपी में बलिया की हुई घटना अति-असहनीयता और अभी भी महिलाओं व बच्चियों पर आए दिन हो रहे उत्पीड़न आदि से यह स्पष्ट हो जाता है कि यहां कानून-व्यवस्था काफी दम तोड़ चुकी है। सरकार इस ओर ध्यान दे तो यह बेहतर होगा, बी.एस.पी. यह सलाह है।

डीआईजी ने दावा किया कि सभी नामजद आरोपियों को पुलिस जल्द ही गिरफ्तार कर लेगी। मामले में लापरवाही बरतने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ प्रकरण कार्रवाई होगी। उन्होंने बताया कि खुले पंचायत में मौजूद अफसरों के खिलाफ शासन ने कार्रवाई की है। मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नजीर बनेगी।

दो गुटों में भिड़ंत

अधिकारियों के जाने के बाद मौके पर मौजूद रेवती पुलिस दोनों पक्षों को समझाने और विवाद शांत करने में जुट गई। जबकि एक पक्ष के अधिकारियों पर पक्षपात करने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी करने लगा। इसी दौरान दूसरे पक्ष के लोगों से भिड़ंत हो गयी। बात बढ़ी तो लाठी-डंडे के साथ ही ईंट-पत्थर चलने लगी। इसी बीच एक पक्ष की ओर से फायरिंग शुरू हो गई। इस दौरान दुर्जनपुर के 46 वर्षीय जयप्रकाश उर्फ ​​गामा पाल को ताथतोड़ 4 गोलियां मार दी गईं। गोली चलाने के कारण ही अफरातफरी मच गई। जयप्रकाश को लेकर लोग सीएचसी सोनबरसा पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

भोपल गैस पीड़ितों के लिए घातक COVID-19, यूनियन कार्बाइड से अधिक मुआवजा चाहता है – भोपाल के गैस पीड़ितों के लिए जानलेवा साबित हो...

भोपाल गैस त्रासदी के शिशु अभी भी कई आत्मसात नई समसयाओं का सामना कर रहे हैं (प्रतीकात्मक शब्द)खास बातेंगैस पीडिआतों के लिए कन्फरत...

कोरोनावायरस के मामले बढ़ने से एयलाइंस कंपनियों की बढ़ी मुश्किलें

यूरोप और अमेरिकी में कोरोनावायरस के मामलों में वृद्धि के साथ ही दुनिया भर की विमानन कंपनियों का वित्तीय परिदृश्य खराब हो रहा...

महबूबा मुफ्ती के करीबी सहयोगी, पीडीपी नेता वहीद पारा को आतंकी मामले में गिरफ्तार – महबूबा मुफ्ती का करीबी, पीडीपी का युवा नेता आतंकी...

खास बातेंहिजबुलंदरर के साथ कथित संबंध मामले में हुई गिरफ्तारी एनआईए ने दिलली में की गुंजाइश थी इसके बाद वहीद पारा को अरेस्ट किया गयानई...

कोरोना काल में सरकारी नौकरी पाने के नाम पर फिंग

दक्षिणी पूर्वी दिल्ली पुलिस ने कोरोना काल में नौकरी देने के नाम पर ठगी करने का ... Source link

Recent Comments